latest-newsएनसीआरगाज़ियाबाद

गाजियाबाद में नहीं थम रहा कुत्तों का आतंक, पार्क में खेलते बच्चे पर डॉग अटैक: की सोसाइटी में घंटों हंगामा, कुत्ता मालकिन पर FIR

संवाददाता

गाजियाबाद । गाजियाबाद के राजनगर एक्सटेंशन स्थित गुलमोहर गार्डन में गुरुवार रात कई कुत्तों ने एक बच्चे को काट लिया। हमले में बच्चा गिर गया और घुटना चोटिल हो गया। इस घटना के बाद जब बच्चे के पेरेंट्स कुत्ता मालकिन के पास आपत्ति दर्ज कराने पहुंचे तो हंगामा खड़ा हो गया।

कुत्ता मालकिन महिला ने आरोप लगाया कि आप लोग मेरी इज्जत के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं। पुलिस ने पहुंचकर दोनों पक्षों को अलग-अलग करके मामला निपटाया। इसके बाद सोसाइटी के तमाम लोगों ने रात में ही थाना नंदग्राम पर पहुंचकर हंगामा किया और कार्रवाई की मांग की।

DCP (सिटी) निपुण अग्रवाल ने बताया,’इस मामले में वादी की तहरीर के आधार पर थाना नंदग्राम पर कुत्ता मालिक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।’

डॉग बाइट की घटना के खिलाफ सोसाइटी के लोग रात में ही थाना नंदग्राम पर पहुंचे और मुकदमा दर्ज कराया।

सेंट्रल पार्क में खेलते वक्त किया हमला
सोसाइटी निवासी हिमांशु शर्मा के मुताबिक, 5 अक्टूबर की शाम साढ़े 7 बजे मेरा बेटा स्वास्तिक शर्मा सेंट्रल पार्क में अन्य बच्चों के साथ खेलने गया था। वहां कुछ कुत्तों ने उस पर हमला बोल दिया और कई जगह से काट लिया। हमने डायल-112 पर फोन करके पुलिस को बुला लिया। पुलिस को लेकर सोसाइटी के लोग कुत्ता मालकिन के पास पहुंचे तो उन्होंने सभी से अभद्रता की और झूठे केस में फंसाने की धमकी दी। इसके बाद सोसाइटी के करीब 50 लोग इकट्ठा होकर थाना नंदग्राम पहुंचे और एप्लिकेशन दी।

बच्चों ने भी किया था प्रदर्शन
गुलमोहर गार्डन में स्ट्रीट डॉग को लेकर लंबे वक्त से विवाद चला आ रहा है। तीन सितंबर को यहां के सैकड़ों बच्चों ने डॉग बाइट की घटनाओं के खिलाफ प्रदर्शन करते हुए इनसे निजात दिलाने की मांग की थी। ये बच्चे हाथों में बैनर-पोस्टर लिए हुए थे। इन बच्चों ने पैदल मार्च निकाला था। दरअसल, इस प्रदर्शन से एक दिन पहले ही कुत्ते ने 10 वर्षीय बच्चे आदविक को कट लिया था।

पशु प्रेमियों व मेंटेनेंस टीम पर आरोप
सोसाइटी के लोगों का कहना है कि कुत्तों की समस्या को बढ़ावा देने में यहां रहने वाले कुछ पशु प्रेमियों और मेंटेनेंस विभाग के कर्मचारियों का हाथ है। अगर कोई विरोध करता है तो ये पशु प्रेमी उस पर मुकदमा दर्ज करा देते हैं। मेंटेनेंस विभाग के कर्मचारी बाहर से आने वाले डॉग को गेट पर नहीं रोकते। इससे बच्चों में दहशत है और वे अब अकेले घूमने में भी डरते हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com